Home राष्ट्रीय कोवैक्सीन’ (COVAXIN) लगवाने वाले अब विदेश नहीं जा पाएंगे ! जानिये क्या...

कोवैक्सीन’ (COVAXIN) लगवाने वाले अब विदेश नहीं जा पाएंगे ! जानिये क्या है कारण ? #VACCINE

76
0

Pratikar News

Nilesh Nagrale

‘कोवैक्सीन ‘(COVAXIN) लगवाने वाले अब विदेश नहीं जा पाएंगे !

 
जानिये क्या है कारण ?
 
 WHO की लिस्ट में शामिल नहीं वैक्सीन का नाम
नई दिल्ली: भारत के बाहर यात्रा और पढ़ायी करने वालों की परेशानियां बढ़ने वाली है। भारत बायोटेक में तैयार हुई स्वदेशी ‘कोवैक्सीन’ को लेकर अब एक बड़ी खबर आ रही है। जानकारी के अनुसार  ‘कोवैक्सीन’ का टीका लगवाने वालों को विदेश की यात्रा के लिए परेशामियों का सामना कर पड़ सकता है। इसके पीछे का कारण है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की इमरजेंसी यूज लिस्टिंग (EUL) में भारत की ‘कोवैक्सीन’ शामिल नहीं की गई है। इसका साफ अर्थ है कि भारत के लोगों को अन्य देशों में एंट्री लेने में परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। बता दें कि अब कई देशों में कोरोना के कारण जो हालात हुए थे उसमें सुधार हो रहा है। इसलिए कई देशों ने ने टीका प्राप्त यात्रियों के लिए नीतियों की घोषणा कर दी हैं। वहीं, कुछ देश जल्द ही नए नियमों का ऐलान करने वाले हैं।
कोवैक्सीन WHO की  लिस्ट में शामिल नहीं
टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट की मानें तो कई देशों में उन्हीं यात्रियों को प्रवेश की अनुमति मिलेगी जिन्होंने WHO से मान्यता प्राप्त वैक्सीन लगवाई है। मतलब ये हुआ कि किसी भी देश में प्रवेश करने के लिए उन्हीं  वैक्सीन को अनुमति दे रहे हैं, जिन्हें उनके नियामकों की तरफ से मंजूरी मिल चुकी हो या वे WHO की सूची में शामिल हों। फिलहाल इस सूची में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्ड, मॉडर्ना, फाइजर, एस्ट्राजेनेका (2), जेनसेन (अमेरिका और नीदरलैंड्स) और सिनोफार्म/बीबीआईपी का नाम शामिल है। वहीं अब तक इस लिस्ट  में कोवैक्सीन को  शामिल नहीं किया है।
कोवैक्सीन के विषय में चाहिए और जानकारी-   WHO

ताजा जानकारी के अनुसार डब्ल्युएचओ के ताजा दिशा-निर्देशों से पता चलता है कि भारत बायोटेक ने एक्सप्रेशन ऑफ इंट्रेस्ट जमा किया है, लेकिन इसके संबंध में अभी ‘और जानकारी की जरूरत है।’ डब्ल्युएचओ ने कहा है कि मीटिंग मई-जून में तय है। इसके बाद कंपनी को एक डोजियर दाखिल करना होगा  कोवैक्सीन को अपनी सूची में शामिल करने से पहले डब्ल्युएचओ की तरफ से आंकलन किया जाएगा। इसके बाद वैक्सीन को लिस्ट में शामिल किए जाने की प्रक्रिया शुरू हो सकती है। अब इस दौरान हर काम में हफ्तों का समय लग सकता है।

बातम्या आणि जाहिरातकरीता संपर्क साधावा - 7038636121

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here