Home आपला जिल्हा मार्च के बाद हटेगी चंद्रपुर की शराबबंदी -पालकमंत्री वडेट्टीवार

मार्च के बाद हटेगी चंद्रपुर की शराबबंदी -पालकमंत्री वडेट्टीवार

2
0

चिमूर (चंद्रपुर) : जिले के पालकमंत्री विजय वडेट्टीवार ने 4 सितंबर 2020 को शीतसत्र के पूर्व ही शराबबंदी हटाने की बात कही थी. परंतु इस डेडलाइन के बीत जाने के बाद अब पुनः एक बार उन्होंने जिलावासियों के लिए नई डेडलाइन दी है. मार्च -2021 के बाद शीघ्र ही शराबबंदी हटाने की बात पालकमंत्री वडेट्टीवार ने शुक्रवार, 1 जनवरी को की वे नववर्ष के उपलक्ष्य में चिमूर के बालाजी महराज मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे थे. यहां मौजूद लोगों के सवालों के जवाब में उन्होंने इस नई डेडलाइन दे दी.
1 अप्रैल 2015 को तत्कालीन भाजपा सरकार ने पूर्व वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार की अगुवायी में चंद्रपुर जिले में शराबबंदी की बात कही थी. बीते लोकसभा एवं विधानसभा के चुनावों में शराबबंदी हटाने के बयानों पर कांग्रेस नेताओं ने वोट बटोरे.
गत एक वर्ष से जिले की शराबबंदी हटाने की हलचलें तेज हुई है.

ज्ञात हो कि चंद्रपुर जिले में बीते अनेक वर्षों से अवैध शराब तस्करी तथा बिक्री बेतहाशा बढ़ी है. इसके साथ ही अपराधों में भी बढ़ोतरी हुई है. जिलावासियों के लिए शराबबंदी की विफलता लगातार ही चर्चा का विषय रही है. इसके चलते जिले की शराबबंदी कब हटेगी ? यह सवाल हर समय पर पूछा जाने लगा है. इस मसले को सुलझाने की ओर नागरिकों का ध्यान लगा हुआ है. ऐसे में जब नव वर्ष के उपलक्ष्य में शुक्रवार को दोपहर 12 बजे के दौरान जिले के पालकमंत्री वडेट्टीवार अपनी पुत्री शिवानी के साथ नागुपर से चिमूर के आराध्य देवता श्रीहरी बालाजी माराज मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे. यहां नतमस्तक होकर राज्य व जिले के किसान तथा नागरिकों के सुख समाधान की उन्होंने प्रार्थना की. जब वे दर्शन कर लौट रहे थे तो चिमूर के एक व्यापारी राकेश नंदुरकर ने सीधे पालकमंत्री से शराबबंदी हटाने की अवधि को लेकर सवाल पूछ लिया. इसके जवाब में पालकमंत्री ने 31 मार्च के बाद शीघ्र ही शराबबंदी हटाने का आश्वासन दे डाला. यह खबर चंद देर में ही सोशल मीडिया के माध्यम से जिले के कोने – कोने में पहुंच गई. सर्वत्र पालकमंत्री के इस घोषणा को लेकर उत्सुकता एवं चर्चा होने लगी.

बातम्या आणि जाहिरातकरीता संपर्क साधावा - 7038636121

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here